बुक माय ट्यूट्स ने यूजी कोनफ्लूएंस २०२२ का देहरादून में आयोजित किया

बुक माय ट्यूट्स ने यूजी कोनफ्लूएंस २०२२ का देहरादून में आयोजित किया

देहारादून : जैसे की हम सब जानते है DU. JNU, BHU, जामिया मिलिया, HNBGU सहित 45 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश प्रक्रिया CUET(कॉमन यूनिवर्सिटीज़ एंट्रेंस टेस्ट) पर आधारित है और इस साल से बारहवीं कक्षा का महत्व नगण्य कर दिया गया है। ऐसे प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों से पढ़ाई करने के सपने रखने वाले छात्रों को ब्रह्म व अव्यवस्तिय स्थिति में छोड़ दिया है।

इस समस्या को दूर करने के लिए BookMyTutes (उत्तराखंड का सबसे बड़ा एडटेक स्टार्ट-अप) ने आज UG Confluence 2022 का आयोजन किया था। यह कार्यक्रम शहर में एक तरह का अनूठा कार्यक्रम था, जिसका उद्देश्य कक्षा बाहरवीं के छात्रों को उनकी क्षमता, भविष्य के कैरियर पथ और बाजार में नौकरी के अवसरों के अनुसार परामर्श देना था। विशेष रूप से Institute of Companies Secretaries of India ने छात्रों को कंपनी सेक्रेटरी के रूप में करियर बनाने लिए प्रोत्साहित किया।

Graphic Era, Bennett, OP Jindal, SRM, DITand GNIOT और UPES सहित देश भर के शीर्ष कॉलेजों ने छात्रों को कॉर्पोरेट जगत की वास्तविक घटनाओं और उदार कला, विज्ञान, प्रबंधन कानून के भविष्य के दायरे की दृष्टि और नेशर प्रदान करके BA, BSC, BBA, B.Com, LLB और BCA में मार्गदर्शन किया। HP ने छात्रों को उनकी कॉलेज यात्रा में उपयोग की जाने वाली प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में शिक्षित किया। CA अमित गोयल (BookMy Tutes के संस्थापक और सीईओ) ने कहा, ‘कई बार, यह देखा गया है कि छात्र क्षेत्र की अस्पष्ट समझ के कारण जातक के बाद अपनी रुचि के क्षेत्र में बदलाव करते हैं. इस अंतर को पाटने में मदद करने के लिए, हमने इस कार्यक्रम का आयोजन किया है, जो इच्छुक छात्रों के लिए पूरी तरह से मुफ्त है। श्रीमती प्रीती गोयल (BookMyTutes के संस्थापक और COO) ने कहा है “इस तराह के शैक्षिक कार्यक्रम बच्चों को नाजुक समय पर मार्ग दर्शित करके उन्हें गलत निर्णय लेने से बचाते हैं और यहीं हमे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है। श्री • सोमाश गर्ग (मेजबान और आयोजक) ने छात्रों को राष्ट्र की विकास के लिए काम करने के लिए प्रभावित किया और छात्रों को प्रोत्साहित करने के
लिए “लीडर बने नाकि एक फोल्लोवेर के विचार को दोहराया।
शिक्षा क्षेत्र के दिम्ाजों को छात्रों की शैक्षिक यात्रा में मदद करने के लिए एक साथ आते देखना खुशी की बात है, भारतीय शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए इस तरह के धैर्य और प्रतिबद्धता की आवश्यकता है ताकि कल किसी भी बच्चे को बेहतर अवसर के लिए देश छोड़ने की आवश्यकता न हो। यह देश में शिक्षा क्रांति की शुरुआत है जो गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के सपने देखने वाले लाखों परिवारों के भविष्य को आशा देव है।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.