सीएम धामी दिल्ली के एमसीडी चुनाव में बतौर स्टार प्रचारक भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में करेंगे प्रचार ~

सीएम धामी दिल्ली के एमसीडी चुनाव में बतौर स्टार प्रचारक भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में करेंगे प्रचार

सीएम धामी दिल्ली के एमसीडी चुनाव में बतौर स्टार प्रचारक भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में करेंगे प्रचार

देहरादून: Uttarakhand News: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दिल्ली के एमसीडी चुनाव में बतौर स्टार प्रचारक भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार करेंगे। इस कड़ी में मुख्यमंत्री धामी रविवार को कुमाऊं दौरे से दोपहर बाद दिल्ली रवाना होंगे।

सीएम धामी रोड शो में लेंगे भाग

शाम को वह भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में शांति मार्ग से श्रीराम चौक मंडावली तक रोड शो में भाग लेंगे। यह भी माना जा रहा है कि दिल्ली प्रवास के दौरान वह पार्टी के केंद्रीय नेताओं से भी मुलाकात कर सकते हैं।

धामी को बतौर स्टार प्रचारक मैदान में उतारा

मुख्यमंत्री धामी की अगुआई में उत्तराखंड में भाजपा मिथक तोड़कर लगातार दूसरी बार सत्तासीन होने में सफल रही थी। इसे देखते हुए भाजपा ने हिमाचल के विधानसभा चुनाव पार्टी ने धामी को बतौर स्टार प्रचारक मैदान में उतारा था।

दिल्ली में उत्तराखंड के निवासियों की अच्छी संख्या

अब भाजपा उनका उपयोग दिल्ली के एमसीडी चुनाव में करने जा रही है। पार्टी ने एमसीडी के चुनाव के लिए अपने स्टार प्रचारकों की सूची में धामी को भी शामिल किया है। असल में दिल्ली में उत्तराखंड के निवासियों की अच्छी-खासी संख्या है।

कई सीटों पर उत्तराखंड मूल के मतदाता निर्णायक स्थिति में हैं। इस बीच कुमाऊं दौरे पर गए मुख्यमंत्री धामी रविवार को अल्मोड़ा से रविवार को दिल्ली रवाना होंगे।

रोजगार देने वाले बनेंगे देश के लोग : उनियाल

कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि वर्ष 2047 तक देश के अधिकांश युवा रोजगार के क्षेत्र में स्टार्टअप का काम करेंगे। इससे वे रोजगार देने में सक्षम होंगे। उन्होंने केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से बेंगलुरु में स्टार्टअप व उद्यमिता विकास पर आयोजित दो दिवसीय कार्यशाला में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व करते हुए यह बातें कहीं।

कैबिनेट मंत्री उनियाल ने बेंगलुरु से लौटने के बाद शनिवार को कहा कि युवाओं के स्टार्टअप व उद्यमिता विकास के लिए केंद्र सरकार की ओर से अधिक धनराशि दी जानी चाहिए। इससे ज्यादा से ज्यादा युवाओं को साथ जोड़ा जा सकेगा।

उन्होंने कहा कि गुजरात के विकास माडल की तर्ज पर केंद्र सरकार को कार्य करने चाहिए। भविष्य के लिए तकनीकी विकास, छात्र उद्यमिता, वित्तपोषण की विधा, धारणीय विकास के लिए नवाचार व पारिस्थितिकी संतुलन इसके प्रमुख अवयव होंगे।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.