उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश और बर्फबारी के आसार

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश और बर्फबारी के आसार

देहरादून। उत्तराखंड में मौसम शुष्क है और चटख धूप खिलने से तापमान में इजाफा होने लगा है। हालांकि, ताजा पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण प्रदेश में गुरुवार को मौसम के करवट बदलने के आसार हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में कहीं-कहीं हल्की बारिश और बर्फबारी हो सकती है। जबकि, मैदानी क्षेत्रों में मौसम शुष्क बना रह सकता है।

उत्तराखंड में पिछले कुछ दिनों से आसमान साफ है और ज्यादातर क्षेत्रों में चटख धूप खिल रही है। जिससे तापमान में बढ़ोतरी के साथ ही गर्मी का भी अहसास हो रहा है। हालांकि, पहाड़ों में कहीं-कहीं बादल भी दिखाई दे रहे हैं। पिछले दो दिन में प्रदेश के ज्यादातर इलाकों के अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस तक की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के ज्यादातर क्षेत्रों में मौसम शुष्क रहेगा। गढ़वाल के उत्तरकाशी, चमोली और कुमाऊं के बागेश्वर, पिथौरागढ़ में हल्की बारिश और बर्फबारी हो सकती है। जिससे तापमान में मामूली गिरावट आ सकती है।

उत्‍तराखंड के चमोली जिले के बार्डर क्षेत्र में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग से हिमखंड व बर्फ हटाने का कार्य तेज कर दिया है। बीआरओ ने हनुमानचट्टी से रड़ांग बैंड तक बर्फ हटा दी है। अब देश के अंतिम गांव माणा तक बर्फ हटाने के लिए मात्र छह किमी की दूरी शेष बची हुई है। जल्द ही बदरीनाथ, माणा तक हाईवे से बर्फ हटाकर वाहनों की आवाजाही चालू कर दी जाएगी।

भारत चीन सीमा पर लगातार भारी बर्फबारी ने बीआरओ की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। अब तक बीआरओ चार बार बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग को बदरीनाथ तक खोल चुका है। फिर से बर्फबारी होने के बाद हाईवे पर 20 फीट बड़े हिमखंड टूटकर आने व समय-समय पर भारी बर्फबारी के चलते बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग रड़ांग बैंड से आगे बंद है। अभी भी बदरीनाथ, माणा तक पहुंचने के लिए बीआरओ को छह किमी सड़क से भारी मात्रा में बर्फ को हटाना पड़ेगा।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.