आगरा में बड़ा हादसा: पैर फिसलने से नहर में गिरा युवक, बचाने के लिए कूदे तीन दोस्त डूबे, तीनों की मौत ~

आगरा में बड़ा हादसा: पैर फिसलने से नहर में गिरा युवक, बचाने के लिए कूदे तीन दोस्त डूबे, तीनों की मौत

आगरा में बड़ा हादसा: पैर फिसलने से नहर में गिरा युवक, बचाने के लिए कूदे तीन दोस्त डूबे, तीनों की मौत

कस्बे के समीप चंबल नहर में डूबने से रविवार दोपहर एक ही परिवार के तीन छात्रों अंकित (15), भोला (18) और शिवा (15) की मौत हो गई। तीनों छात्र अन्य दोस्तों के साथ नहर की ओर घूमने गए थे। पैर फिसलने पर एक छात्र के डूबने पर उसे बचाने की कोशिश में दो और डूब गए। गोताखोरों ने तीनों को बाहर निकाला। मगर, तब तक तीनों की मौत हो चुकी थी। घटना से परिवारों में कोहराम मच गया। 

अंकित के चाचा शत्रुघ्न भदौरिया ने पुलिस को बताया कि रविवार दोपहर तकरीबन 12 बजे अंकित, भोला, शिवा, गोलू, नीशू और दीपक चंबल नहर के पास घूमने पिनाहट गए थे। नहर किनारे घूमने के दौरान पैर फिसलने से अंकित नहर में गिरकर डूबने लगा, जिसे बचाने के लिए गोलू, भोला, शिवा नहर में कूद गए। 

इस दौरान चारों नहर के तेज बहाव में डूबने लगे। दीपक और नीशू ने अंगोछा फेंककर गोलू को बचा लिया। अंकित, शिवा और भोला डूब गए। चीख पुकार सुनकर लोग जुट गए। पुलिस के पहुंचने पर नहर को बंद कराया गया। गोताखोरों ने तकरीबन आधा घंटे की मशक्कत के बाद तीनों को नहर से बाहर निकाला। तीनों को सीएचसी पिनाहट लाया गया, जहां हालत गंभीर होने पर एसएन मेडिकल कालेज इमरजेंसी रेफर कर दिया गया। 

पूर्व प्रधान गजेंद्र भदौरिया ने बताया कि डॉक्टरों ने अंकित, शिवा और भोला को मृत घोषित कर दिया। थानाध्यक्ष पिनाहट कुलदीप कुमार ने बताया कि शवों को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। घटना की जांच की जा रही है।

तीनों कर रहे थे पढ़ाई

परिजनों ने बताया कि अंकित पुत्र ओमवीर शांति निकेतन सीनियर स्कूल पिनाहट में हाईस्कूल का छात्र था, जबकि भोला पुत्र जबर सिंह एसकेआर इंटर कॉलेज उदयपुर खालसा से 12वीं और शिवा पुत्र संजय पूजा पब्लिक स्कूल गोपालपुरा में 11वीं का छात्र था। तीनों की मौत से पूरे गांव में मातम पसर गया है। परिजनों की रो-रोकर हालत खराब है।

घर का इकलौता बेटा था अंकित

मृतक अंकित परिवार का इकलौता बेटा था। अंकित की एक बड़ी बहन प्रियंका है।  वहीं भोला अपने पांच भाइयों व दो बहनों में सबसे छोटा था, जबकि शिवा दो भाई एक बहन में बड़ा था।

नहर में तीन छात्रों के डूबने की खबर लगते ही पूर्व मंत्री अरिदमन सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) पहुंचे। उन्होंने परिजनों को ढांढस बंधाया। सीओ पिनाहट दिनेश कुमार से घटना की जानकारी ली। 

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.