मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दोपहर बाद देहरादून से मध्य प्रदेश के दो-दिवसीय दौरे पर हुए रवाना

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दोपहर बाद देहरादून से मध्य प्रदेश के दो-दिवसीय दौरे पर हुए रवाना

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बुधवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकाल मंदिर में दर्शन व पूजा अर्चना करेंगे। मंगलवार को उन्होंने मध्य प्रदेश के दतिया में पीतांबर पीठ के दर्शन किए।

मुख्यमंत्री धामी मंगलवार को दोपहर बाद देहरादून से मध्य प्रदेश के दो-दिवसीय दौरे पर रवाना हुए। उनके साथ कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी भी हैं। मध्य प्रदेश के ग्वालियर एयरपोर्ट पर उतरने के बाद मुख्यमंत्री वहां से हेलीकाप्टर से दतिया गए और पीतांबर पीठ के दर्शन किए।

इसके बाद वह रात्रि विश्राम के लिए इंदौर लौट आए। बुधवार को उनका उज्जैन के महाकाल मंदिर जाकर दर्शन करने का कार्यक्रम है। देर शाम वह देहरादून वापस लौटेंगे।

समान नागरिक संहिता को सरकार जल्द करेगी लागू : मुख्यमंत्री

वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को मध्‍य प्रदेश रवाना होने से पहले कहा कि दून में चल रहे स्मार्ट सिटी के कार्यों में तेजी लाई जाएगी। शहर को सुंदर और स्मार्ट बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। विकास कार्यों के दौरान इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि आमजन को इससे कोई परेशानी न हो।

इस संबंध में मुख्यमंत्री ने देहरादून स्मार्ट सिटी कंपनी को भी विशेष दिशा-निर्देश दिए जाने की बात कही। इसके अलावा राज्य में समान नागरिक संहिता लागू किए जाने को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस पर कार्यवाही की जा रही है, जल्द ही इसे लागू किया जाएगा।

यह बातें मुख्यमंत्री ने मंगलवार को राजपुर रोड विधानसभा क्षेत्र में सुभाष रोड स्थित एक वेडिंग प्वाइंट में कहीं। वह यहां आयोजित अभिनंदन समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान राजपुर रोड विधायक खजानदास ने मुख्यमंत्री के समक्ष जन समस्याओं को रखा।

उन्होंने मुख्यमंत्री को स्मार्ट सिटी के कार्यों में हो रही देरी और इससे आमजन को पेश आ रही समस्या से भी अवगत कराया। साथ ही मच्छी बाजार को अन्यत्र शिफ्ट करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने विधायक को आश्वस्त किया कि क्षेत्र में सभी कार्य समय पर और व्यवस्थित तरीके से होंगे।

मुख्यमंत्री ने कार्यकत्र्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हुए विकास कार्यों पर जनता ने मुहर लगाई है। विकास की दृष्टि से प्रदेश के लिए आने वाले पांच साल स्वर्णिम होंगे। वर्ष 2025 तक उत्तराखंड को देश के अग्रणी राज्यों में शामिल करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। जनता के विश्वास और आकांक्षाओं पर खरा उतरेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार विकल्प रहित संकल्प के ध्येय पर काम कर रही है।

जनता से किए गए वादों और घोषणाओं को निर्धारित समयाविध में पूर्ण किया जाएगा। इस दौरान कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल, गणेश जोशी, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, महापौर सुनील उनियाल गामा, कैंट विधायक सविता कपूर आदि मौजूद रहे।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.