लखनऊ ज्वैलर्स लूट कांड: पुलिस मुठभेड़ में एक लाख का इनामी राहुल ढेर ~

लखनऊ ज्वैलर्स लूट कांड: पुलिस मुठभेड़ में एक लाख का इनामी राहुल ढेर

लखनऊ ज्वैलर्स लूट कांड: पुलिस मुठभेड़ में एक लाख का इनामी राहुल ढेर

लखनऊ। अलीगंज में तिरुपति ज्वेलर्स के यहां कर्मचारी की हत्या कर लूटपाट करने के आरोपित एक लाख के इनामी राहुल की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। इस दौरान पुलिस की जवाबी कार्यवाही में एक लाख का इनामी राहुल मारा गया। वह मूल रूप से शाहजहांपुर का था रहने वाला था।

आरोपित ने 08 दिसंबर 2021 में तिरुपति ज्वेलर्स में साथियों के साथ लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था। वहीं मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह के कुछ घंटे पहले ही लखनऊ पुलिस ने मुठभेड़ में कई मामलों में वांछित चल रहे राहुल को मार गिराया। इंस्पेक्टर अलीगंज धर्मेंद्र यादव के मुताबिक, शुक्रवार तड़के करीब तीन बजे पुलिस चेकिंग के दौरान बंधा रोड हेल्थ हास्पिटल, हसनगंज के पास बिना नम्बर की अपाचे मोटरसाइकिल पर सवार को रोका गया। पुलिस के रोकने पर बाइक सवार युवक भागने लगा।

संदेह होने पर पीछा किया गया तो उसने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। जवाबी फायरिंग में वह घायल हो गया। छानबीन में पता चला कि मुठभेड़ में घायल युवक एक लाख का इनामी मोरापुर थाना जलालाबाद, शाहजहांपुर निवासी राहुल सिंह है। आरोपित को भाऊराव देवरस अस्पताल में ले जाया गया था, जहां से उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। अस्पताल में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। राहुल के पास से बिना नम्बर की एक अपाचे मोटरसाइकिल, अवैध असलहे व कई कारतूस तथा कीमती जेवर बरामद किए गए हैं।

राहुल सिंह ने कपूरथला स्थित निखिल अग्रवाल के तिरुपति ज्वैलर्स में आठ दिसंबर 2021 को कर्मचारी श्रवण को गोली मारकर करीब 40 लाख रुपए कीमत के सोने के गहने लूट लिये थे। तब उस पर एक लाख रुपए का इनाम रखा गया था। 16 दिसंबर 2021 को इस घटना में शामिल उसके साथी गाजीपुर सेक्टर सी निवासी हर्ष सिंह उर्फ हनी सिंह और गुडंबा कल्याणपुर निवासी रवि कुमार वर्मा को गिरफ्तार किया गया था।

राहुल ने 8 दिसंबर 2021 को तिरुपति ज्वेलर्स के यहां धावा बोला था। तब सेक्टर बी अलीगंज निवासी सर्राफ निखिल अग्रवाल, दो महिला कर्मचारी के अलावा श्रवण कुमार मौजूद थे। राहुल ने साथियों संग श्रवण कुमार की हत्या कर लूटपाट की थी। छानबीन के दौरान सीसी फुटेज में राहुल कैद हो गया था। पुलिस ने लूटपाट में शामिल गुडंबा निवासी हनी सिंह और रवि कुमार वर्मा को गिरफ्तार किया था, लेकिन राहुल का सुराग नहीं मिल रहा था। गुरुवार देर रात चेकिंग के दौरान पुलिस ने संदिग्ध को रोका तो उसने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी थी और जवाबी कार्रवाई में मारा गया।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.