आज से चैत्र नवरात्रि शुरू, जानें, घटस्थापना का शुभ मुहूर्त ~

आज से चैत्र नवरात्रि शुरू, जानें, घटस्थापना का शुभ मुहूर्त

आज से चैत्र नवरात्रि शुरू, जानें, घटस्थापना का शुभ मुहूर्त

नवरात्रि की नौ रातें हिंदू धर्म की तीन सर्वोच्च देवी- पार्वती, लक्ष्मी और सरस्वती को समर्पित
नवरात्रि घटस्थापना का शुभ मुहूर्त 06 बजकर 10 मिनट से 08 बजकर 29 मिनट तक

चैत्र नवरात्रि हिंदू धर्म के सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है। नवरात्रि के पहले दिन कलश स्थापना की जाती है। इसे घटस्थापना भी कहा जाता है। नवरात्रि घटस्थापना का शुभ मुहूर्त 02 अप्रैल 2022 शनिवार को सुबह 06 बजकर 10 मिनट से 08 बजकर 29 मिनट तक रहेगा। कलश स्थापना प्रतिपदा यानी नवरात्रि के पहले दिन मां दुर्गा की पूजा के साथ की जाती है।

नौ दिनों तक चलने वाला यह त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। नवरात्रि की नौ रातें हिंदू धर्म की तीन सर्वोच्च देवी- पार्वती, लक्ष्मी और सरस्वती को समर्पित हैं। पहले तीन दिन देवी दुर्गा के हैं, जो शक्ति और ऊर्जा का प्रतीक हैं। नवरात्रि के अगले तीन दिन देवी लक्ष्मी के हैं, जो लोगों को धन और समृद्धि का आशीर्वाद देते हैं। जबकि अंतिम 3 दिन देवी सरस्वती को समर्पित हैं, जो आध्यात्मिक ज्ञान के साथ देवताओं को आशीर्वाद देने के लिए जानी जाती हैं। माना जाता है कि नवरात्रि में मां दुर्गा स्वयं घर में आती हैं इसलिए आप जो भी करें उस पर विशेष ध्यान दें। वहीं, नवरात्रि के दौरान आप कुछ वास्तु टिप्स अपनाकर घर को खुशहाली, सुख-समृद्धि से भर सकते हैं।
आम के पत्तों का तोरण बांधें
वास्तु विशेषज्ञों के अनुसार, आम के पत्तों का तोरण मुख्य द्वार पर लटकाने से घर में नकारात्मक शक्तियां प्रवेश नहीं करती। ऐसे में नवरात्रि के दौरान आम के पत्तों का तोरण दरवाजे पर लगाना ना भूलें।
ऐसी हो दुर्गा मां की चैकी
वास्तु अनुसार, नवरात्रि में मां दुर्गा की मूर्ति स्थापना चंदन की चैकी या पट पर करने से घर के सभी वास्तु दोष दूर होते हैं।
सूर्य देव की पूजा करें
नवरात्रि के दिनों में ग्रहों के राज सूर्य देव की पूजा करना भी शुभ मना जाता है। अगर गुस्सा अधिक आता है तो इन 9 दिनों में सूर्य को जल जरूर चढ़ाएं।
मत्सय भगवान की पूजा करें
चैत्र माह में भगवान विष्घ्णु के मछली स्वरूप की पूजा करना शुभ माना जाता है। साथ ही इन 9 दिनों में मछलियों को दाना डालने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होगी।
दुर्गा मां को चढ़ाए लाल फूल
चैत्र के पूरे माह मां लक्ष्मी को शुद्ध गुलाब का इत्र या लाल गुलाब के पूल अर्पित करें। वास्तु अनुसार, इससे मां प्रसन्न होती है और धन में भी बरकत रहती है।
लाल फलों का दान करें
मान्यता है कि नवरात्रि में लाल फल दान करने चाहिए। इससे घर परिवार में सुख-समृद्धि आती है और मां की भी असीम कृपा बरसती है।
सभी मनोकामनाएं होगी पूरी
नवरात्रि के किसी भी दिन पान के पत्ते पर 2 लौंग रखें जल में प्रवाहित कर दें। इससे आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी होगी।

editor

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published.